सिंघम कहे जाने गौरव तिवारी की शहर से गौरवपूर्ण विदाई जिसे आप भूल नही पायेंगे।

0 0
Read Time:4 Minute, 21 Second

SP.Gaurav Tiwari, सिंघम कहे जाने गौरव तिवारी known as Singham, has a proud farewell from the city which you will not be able to forget.

Thetimesofcapital/31/01/2022/ सिंघम कहे जाने गौरव तिवारी की शहर से गौरवपूर्ण विदाई जिसे आप भूल नही पायेंगे।

जिले के गौरव की गौरव पूर्ण विदाई जिलेवासियों द्वारा दी
धन्यवाद रतलामए फिर मिलेंगे. श्री गौरव तिवारी
रतलाम । रतलाम की जनता का १२९८ दिन का जो सहयोग प्राप्त हुआ, वह हमेशा स्मरणीय रहेगा। मैंने यहां प्रोबेशनर के रूप मैं थाना प्रभारी सी एस पी एडिशनल एसपी से अपनी सेवा प्रारंभ की उसके पश्चात जिले के अधीक्षक के रूप में मैंने अपना कार्यकाल जनता के सहयोग और आत्मविश्वास पर किया।

सिंघम कहे जाने गौरव तिवारी (SP.Gaurav Tiwari) इस दौरान जनता का जो सहयोग मिला वह हमेशा मुझे याद रहेगा सामान्यता प्रशासनिक अधिकारी की विदाई सामाजिक संस्थाओंए गैर सामाजिक संस्थाओं एवं प्रशासनिक तौर पर होती है, लेकिन आज मुझे खुशी है कि मुझे पंचमुखी हनुमान मंदिर ट्रस्ट द्वारा विदाई दी गई जो बहुत कम देखने में आता है, आप सभी का आभार धन्यवाद फिर मिलेंगे ।

उपरोक्त विचार स्थानांतरित पुलिस अधीक्षक गौरव तिवारी ने श्री पंचमुखी हनुमान मंदिर ट्रस्ट द्वारा आयोजित विदाई समारोह के दौरान व्यक्त किए ।
सिंघम कहे जाने गौरव तिवारी (SP.Gaurav Tiwari) प्रारम्भ में पंचमुखी हनुमान मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष मिश्रीलाल सोलंकी ने स्वागत भाषण दिया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि समाजसेवी खुर्शीद अनवर ने कहा कि जिले के गौरव की गौरवपूर्ण विदाई निश्चित ही उन्हें डीआईजी के रूप में अगली पारी रतलाम में खेलने का अवसर मिले इसकी हम शुभकामनाएं देते हैं ।

सिंघम कहे जाने गौरव तिवारी (SP.Gaurav Tiwari) प्रकाश व्यास ने संबोधित करते हुए कहा कि आप न केवल एक प्रशासनिक अधिकारी थे बल्कि आपकी रूचि धार्मिक, सामाजिक, सांस्कृतिक एवं खेलकूद में भी बनी रहे जो एक अच्छे कप्तान किं कार्य शैली का परिणाम है। में कार्यक्रम के प्रारंभ में गौरव तिवारी जी द्वारा मंदिर परिसर में भोलेनाथ का पंडित राजेंद्र उपाध्याय के मंत्रोच्चार के साथ जलाभिषेक किया गया ।

सिंघम कहे जाने गौरव तिवारी (SP.Gaurav Tiwari) इस अवसर पर अनुभूति संस्था की ओर से रामचन्द्र अम्बर ने शाल श्रीफल से श्री तिवारी का सम्मान किया । इस मौके पर ट्रस्ट के सुनील मेहता, प्रकाश व्यास, शंकरलाल मालवीय, सुनील राठौड़, आदि द्वारा शाल श्रीफल एवं स्मृति चिन्ह तथा अभिनंदन पत्र भेंट कर तिवारी को सम्मानित किया गया। विपिन पिंरोदिया, DK शर्मा, लक्ष्मण पाठक, मोहन मुरली वाला, संजय जैन, प्रदीप जैन, रामचंद्र गहलोत, प्रदीप ओझा, काशीराम मालवीय, रामप्रसाद मालवीय, आदि द्वारा पुष्पहार से स्वागत किया गया ।

कार्यक्रम का संचालन पं. राजेन्द्र उपाध्याय ने किया एवं आभार सुनील राठौड़ ने माना ।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Comment