आग के हवाले पत्रिका अखबार ब्राहम्णों का विरोध: Breaking news

0 0
Read Time:3 Minute, 18 Second

Thetimesofcapital/13/11/2021/आग के हवाले पत्रिका अखबार ब्राहम्णों का विरोध : विगत दिनों रतलाम स्थित महालक्ष्मी मंदिर पर पुजारी पर लगाए गए चोरी के इल्जाम के विरोध में आज 13 नवंबर को कोर्ट चैराहे पर सभी सनातनी बंधु हिंदू समाज जन ने सामूहिक रूप से विरोध किया .

उद्देश्य : –newspaper in Ptrika set fire शासन प्रशासन द्वारा भी ब्राह्मणों के हक का अतिक्रमण किया जा रहा है जो पैसा ब्राह्मणों के हित में होना चाहिए वह सरकार अपने अधीन कर रही हैं ,

आग के हवाले पत्रिका अखबार मंदिर में जब श्रद्धालु श्रद्धा से अपनी स्वेच्छा से ब्राह्मणों को दक्षिणा दे रहे हैं, तो उसके लिए भी सरकार प्रतिबंध लगाना चाह रही है , सरकारी दानपात्र वहां पर रखा है उसके बावजूद अगर व्यक्ति ब्राह्मणों की हित में उनके लिए कुछ देना चाहते हैं तो उस पर भी सरकार अपनी दृष्टि जमाए हुए हैं .

समस्त हिंदू समाज यह मांग रखता है कि :- Breaking news मंदिरों में का पेशा मंदिरों के कल्याण के लिए और समाज के कल्याण के लिए ही उपयोग होना चाहिए न कि इसे शासन अपने अधीन करें ,

newspaper in Ptrika set fire रतलाम नगर के समाचार पत्र पत्रिका द्वारा लक्ष्मी मंदिर के पुजारी को चोर बतलाया गया है यह व्यक्ति विशेष का अपमान नहीं होकर समस्त विप्रबंधु ब्राह्मण देवता पुजारियों का अपमान है.

Breaking news जिसके कारण समस्त विप्रबंधु ब्राह्मणों का पुजारियों का कहीं न कहीं हृदय में उनको अत्यंत पीड़ा हुई है , ब्राह्मण का अपमान ही ब्राह्मणों के लिए मृत्युदंड के बराबर होता है ,

आग के हवाले पत्रिका अखबार पत्रिका में छपे लेख से प्रकाशन से ब्राह्मण बन्धु क़े सम्मान को धुमित करने का प्रयास किया गया हैं ,और समाज में उनके मान-सम्मान की हानि हुई है , इस हेतु समस्त ब्राह्मण समाज सहित समाज के समस्त हिंदू संगठन इसका पुरजोर विरोध करते हैं.

पत्रिका अखबार का भी पुरजोर विरोध करते हैं जिसने इस प्रकार की ख़बर प्रकाशित किया , जिसके कारण समस्त समाज में विप्रबंधुओं की छवि और धूमिल हुई है इसीलिए इन ऐसे समाचार पत्र और उसको प्रकाशित करने वाले पत्रकार का पूरा समाज विरोध करता है ताकि आने वाले समय पर इस गरिमामय पत्रकार की छवि किसी भी प्रकार से कोई अन्य पत्रकार धुमित न करे

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.