mayank jat ratlam Election Very bad, 17 year wait, हर समस्या का स्थाई समाधान होगा

0 0
Read Time:3 Minute, 57 Second

mayank jat ratlam Election

mayank jat ratlam Election हर समस्या का स्थाई समाधान होगा

mayank jat ratlam Election हर समस्या का स्थाई समाधान होगा

mayank jat ratlam Election:

17 सालों से मीठे पानी का इंतजार कर रहे शुभमश्री सहित अन्य कॉलोनियों के रहवासी

नेता नहीं बेटा चुनेए हर समस्या का स्थायी समाधान करूंगा, मयंक जाट

रतलाम 3 जुलाई 22 कांग्रेस महापौर उम्मीदवार मयंक जाट पटरी पार क्षेत्र वार्ड क्र 10 में जनसम्पर्क के लिए पहुंचे। विगत 17 सालों से मीठे पानी का इंतजार कर रहे स्थानीय नागरिकों के प्रतिनिधिमंडल ने दो टूक शब्दों में कहा है कि वे इस बार परिवर्तन करने का ठान चुके है।

mayank jat ratlam Election हर समस्या का स्थाई समाधान होगा

mayank jat ratlam Election: जो भाजपा परिषदें विगत 15 सालों में हमें मीठा पानी तक नही दे सकी। उस पर अन्य बुनियादी सुविधाओं के लिए अब क्या भरोसा किया जाये श्री जाट ने वर्षो से त्रस्त नागरिकों को विश्वास दिलाया कि अभी तक वे नेता चुनते आये है ए इस बार बेटा चुनें। बेटा अपने घर की हर समस्या का स्थायी समाधान जिम्मेदारीपूर्वक करने की शपथ लेता है।

मेरा बचपन यही बीता है.

mayank jat ratlam Election: निकाय चुनाव में वार्डवार अपने जनसंपर्क अभियान “आपका बेटा आपके द्वार” के अंतर्गत महापौर उम्मीदवार मयंक जाट वार्ड क्र. 10 में पार्षद प्रत्याशी अलीशा डेनियल एवं क्र. 12 में दीपमाला सोलंकी के साथ नागरिकों से मुखातिब हुए। श्री जाट को शनिवार शाम मंगल मूर्ति, सुयोग परिसर 1.2, नेमीनाथ कॉलोनी, मुखर्जी नगर, विरियाखेडी क्षेत्र में रहवासी अपनी समस्याएँ बताने के लिए एकत्र हुए थे।

mayank jat ratlam Election:

विकास की जिम्मेदारी मयंक भैया को ही

mayank jat ratlam Election हर समस्या का स्थाई समाधान होगा

श्री जाट को वार्ड क्र. 10 अंतर्गत नेमिनाथ कॉलोनी . शुभम श्री कॉलोनी सहित अन्य कॉलोनियों के रहवासियों के प्रतिनिधि मंडलों ने अपनी समस्याओं के सम्बन्ध में मांगपत्र दिए। जिसमे उन्होंने बताया कि कॉलोनियां नगर निगम में हस्तांतरित हो जाने के बावजूद भी स्थानीय रहवासी मीठे पानी का इंतजार कर रहे है।
भाजपा पिछले 17 वर्षों में यंहा मीठा पानी ही नहीं पिला सकी है। रहवासी खारा पानी से गुजारा कर रहे है। इस क्षेत्र के कॉलोनियों में न तो मीठे पानी की सुविधा है और नहीं सफाई प्रकाश जैसी बुनियादी सुविधाएँ। इन सबके अभाव में नारकीय जीवन जीने को विवश है।

हम जब भी अपनी समस्या लेकर जिम्मेदारों के पास गये, पहले तो वे मिलते ही नहीं है और जब मिले भी सही तो सिवाय आश्वसन के अतिरिक्त और कुछ नहीं मिला। इसलिए हमने निर्णय लिया है कि हम इस बार परिवर्तन करते हुए विकास की जिम्मेदारी मयंक भैया को सोपेंगे।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.