बीडी बनी जान की दुश्मन बीडी के धुंए से परेशान भगवान ने की हत्या, 22 साल पहले sad news

0 0
Read Time:3 Minute, 17 Second

Thetimesofcapital/16/04/2022/Ratlam News बीडी बनी जान की दुश्मन गवानी पडी जान क्या आपको भी कोई मना करता है………. सावधानी ही सुरक्षा

बीडी बनी जान की दुश्मन गवानी पडी जान क्या आपको भी कोई मना करता है………. सावधानी ही सुरक्षा

बीडी बनी जान की दुश्मन: जी हॉ रतलाम में एक ऐसा मामला सामने आया जहॉ पर बीडी पीने की बात पर एक व्यक्ति ने दूसरे व्यक्ति की जान ले ली।

बीडी बनी जान की दुश्मन

रतलाम में बीडी पीने की बात पर एक व्यक्ति ने दूसरे व्यक्ति को बीडी पीने से मना किया नही मानने पर दूसरे व्यक्ति ने बीडी पीने वाले व्यक्ति के सर पर लोहे की राड सरीया मार कर हत्या कर दी।

बताया जा रहा है कि जीस व्यक्ति ने हत्या की उसे पीडी के धुंए से परेशानी थी जीसे बर्दास्त नही कर सकता था।

क्या है मामला “बीडी बनी जान की दुश्मन
मामला 16 अप्रैल को सुबह के 4 बजे का है एक व्यक्ति ने दूसरे को कहा कि तू बीडी मत पी, इसी बात को लेकर उस व्यक्ति ने बात नही मानी जीसका नतीजा सामने आया बीडी पीने वाले व्यक्ति की मौत बनकर इस बात से नाराज व्यक्ति ने गुस्से मे आकर लाठी पत्थर से सिर पर हमला कर दिया। जीससे की बीडी पीने वाले व्यक्ति की मौत हो गयी।

सूचना मिलने पर मौके पर पुलिस पहूची और शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवाया हत्या करने वाले को पकडलिया गया है।

बीडी बनी जान की दुश्मन: घटना रतलाम जिले आदिवासी अंचल के रावटी तहसील के रानीसिंग की है।

मृतक जो कि सुरेश जोशी बीडी पी रहा था उसी समय भगवान सिंह उम्र 55 साल को परेशानी हुई इस बात पर भगवान ने सुरेश को कहा कि बीडी मत पी इसके धुंए से परेशानी होती है तकलीफ होती है।

यह कहने पर भी सुरेश ने भगवान की बात नही मानी जीस बात पर भगवान को गुस्सा आ गया और पास में पडी लाठी उठाकर सर फोड दिया साथ ही पत्थर भी मारा बताया गया मौके पर सुरेश की मौत हो गई।

बीडी बनी जान की दुश्मन

बीडी बनी जान की दुश्मन बीडी के धुंए से परेशान भगवान ने की हत्या, 22 साल पहले

बताया जा रहा है कि आरोपी भगवान से पुछताछ में बताया कि आरोपी की 22 साल पहले एक्सीडेंट हुआ था ओर उसी के बाद से बीडी के धुंए से परेशानी होती है।

बताया जा रहा है कि दोनो मृतक और आरोपी मानसिक रूप से कमजोर है।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.