2022 Puri Yatra यहा भगवान जगन्नाथ के दर्शन किजीए, good news

0 1
Read Time:3 Minute, 34 Second

2022 Puri Yatra

2022 Puri Yatra यहा भगवान जगन्नाथ के दर्शन किजीए

2022 Puri Yatra यहा भगवान जगन्नाथ के दर्शन किजीए

2022 पुरी यात्रा यहा भगवान जगन्नाथ के दर्शन किजीए

जगन्नाथ यात्रा भक्त भगवान का पुर्नमिलन 2 साल बाद

2022 पुरी जगन्नाथ यात्रा भक्त 2 साल बाद भगवान के साथ फिर से जुड़ता है

जगन्नाथ पुरी की रथ यात्रा को लेकर श्रद्धालुओं में इस बार दुगना उत्साह हैण् दो साल से बंद जगन्नाथ यात्रा शुरू हुईए जिसमें भक्त बड़े उत्साह से भाग ले रहे हैं।

तीनों देवता रथ में भगवान जगन्नाथ नारायण बलभद्र बलभद्र बलराम शुभद्र के साथ शहर की यात्रा करेंगे और भक्तों का आशीर्वाद प्रदान करेंगे। यह एक अविस्मरणीय अविस्मरणीय क्षण है जिसे कोई भी भक्त याद नहीं करना चाहता।

भगवान और भक्तों का पुनर्मिलन दो साल बाद हुआ।

प्रशासन ने दो साल के अंतराल के बाद इस यात्रा को करने की अनुमति दी है। तीनों रथ भगवान जगन्नाथ मंदिर के सामने भगवान के विराजमान होने की प्रतीक्षा कर रहे थे।

लाखों की भीड़ यात्रा में शामिल होने के लिए पहुंच चुकी है।

यात्रा के पुर्व अज्ञान माला बीजे अनुष्ठान का अयोजन किया गया था।

यहा पर दर्शन कर सकते है आप भगवान जगन्नाथ बलभद्र एवं शुभद्रा के यह चित्र आपको हम बता रहा है

भगवान जगन्नाथ और उनके भाई देवताओं के पहांडी अनुष्ठान यज्ञ पुजा पाठ के बाद शुक्रवार को समापन वार्षिक गुंडिचा यात्रा के रूप में हुआ।

2022 Puri Yatra यहा भगवान जगन्नाथ के दर्शन किजीए

भगवान के रथो का यहा पधारे लाखों भक्तों के द्वारा खींचा गया जो दूर से आये थें।

जगन्नाथ भगवान जगत के पालनहार पुरी मंदिर से निकले और भक्तों को दर्शन दिये जीसका वे बेसब्री से इंतजार कर रहे थे।

नौ रोज का होता है प्रवास भगवान का यह प्रवास नौ दिनों का होता है जहॉ भगवान बलभद्र व देवी सुभद्रा भी होगी।

उंचे बडे से ध्वज फहराये गये है ध्वज पताका हवा से लहरा रही है हरी बोल के उच्चारण मंत्र मुग्ध कर रहे है भक्तो की भगवान को जय जयकार के स्वर गुंज रहे है।

2022 Puri Yatra यहा भगवान जगन्नाथ के दर्शन किजीए

भक्त अपने भगवान को पाकर दर्शन करके अपने आप को खुश नसीब समझ रहे है क्योकि दो साल के अंतराल के बाद यह सुअवसर प्राप्त हुआ है जब भगवान के दर्शन प्राप्त हुए है।

मनोहारी दृश्य जिसे आप अपने मन में बसा लेंगे भगवान की जय जयकार से पूरा पुरी शहर भक्तमय हो चुका है। जीसका वर्णन नही किया जा सकता है।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.