Neeraj Chopra Golden boy of Panipat gave gold to India,tokyo

0 0
Read Time:9 Minute, 29 Second

Thetimesofcapital | Ratlam | Updated: 07 July 2021 20:14:31 PM

Tokyo Olympics 2020 Subedar Neeraj Chopra Javelin Thrower gold medal won

सूबेदार नीरज चोपड़ा जैवलिन थ्रोअर सूबेदार नीरज चोपड़ा जैवलिन थ्रोअर भारतीय सेना मे राजपूताना राइफल्स के सूबेदार नीरज चोपड़ा को क्रीड़ा भारती के राष्ट्रीय कार्याध्यक्ष विधायक चेतन कश्यप ने गोल्ड मेडल जीतने पर हर्ष जताया रतलाम टोक्यो ओलंपिक 2020 में भारत के गोल्ड मेडल जीतने पर क्रीड़ा भारती के राष्ट्रीय कार्याध्यक्ष एवं विधायक चेतन कश्यप ने हर्ष जताया है. उन्होंने ओलंपियन वह भारतीय सेना में राजपूताना राइफल्स में सूबेदार पद पर नीरज चोपड़ा को इस उपलब्धि के लिए बधाई देते हुए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद प्रेषित किया है. श्री कश्यप ने बताया कि ओलंपियन नीरज चोपड़ा की इस उपलब्धि से देश को ओलंपिक में एथलेटिक्स का पहला गोल्ड मेडल प्राप्त हुआ है जेवलिन थ्रो भारतीय सेना के सूबेदार पद के नीरज चोपड़ा ने भारत को गोल्ड मेडल दिला कर हर एक भारतवासी को गौरवान्वित किया है इससे पूर्व वर्ष 1960 के रोम ओलंपिक एवं 1984 के लास एंजिल्स ओलंपिक में भारत मात्र 1 सेकेंड से पदक पाने से वंचित रह गया था.

श्री कश्यप ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी द्वारा खेलों को बढ़ावा देने के लिए लगातार प्रयास किए गए हैं देश की यह सफलता उन्हें प्रयासों का परिणाम है भारत ने इस ओलंपिक में एक गोल्ड 2 सिल्वर और 4 ब्रांच समेत कुल 7 मेडल जीते हैं इससे पूर्व 2012 के ओलंपिक में भारत ने 6 मेडल जीते थे

(tokyo olympics ) : भारतीय सेना में पानीपत के गोल्डन बॉय सूबेदार नीरज चोपड़ा ने भारत को दिया गोल्ड ने कोरोना काल में भारत को किया गोल्डन गोल्डन, नीरज चोपड़ा का निकनेम Golden Boy है नीरज चोपड़ा को Golden Boy के नाम से भी जाना जाता है नीरज चोपड़ा का जन्म 24 दिसंबर 1996 को पानीपत हरियाणा में हुआ था नीरज चोपड़ा की शिक्षा की बात करें तो डीएवी कॉलेज चंडीगढ़ से शिक्षा ग्रहण की है

टोक्यो: भारत के नीरज चोपड़ा ने पुरुषों की भाला फेंक स्पर्धा के फाइनल में प्रतिस्पर्धा करते हुए प्रतिक्रिया व्यक्त की, इसलिए टोक्यो में शनिवार, 7 अगस्त, 2021 को 2020 Tokyo Olympics था।

interesting information: नीरज चोपड़ा भारतीय सेना में वर्ष 2016 से वर्त्तमान तक सूबेदार के पद पर कार्य कर रहे हैं वह भारतीय सेना की 4 राजपूताना रायफल में आप नीरज चोपड़ा को विशिष्ट सेवा पुरस्कार से नवाजा जा चुका हे.


टोक्यो ओलंपिक(tokyo olympics ) भारत पदकों की श्रंखला में अपने आप को सूखा सा महसूस कर रहा था इस सूखे को तोड़ते हुए नीरज ने अपने नीर से भारत को स्वर्णिम कर दिया है भारत में नीरज के नीर से पूरा भारत स्वर्णिम गोल्डन गोल्डन हो चुका है हर और नीरज के नीर की बहार छाई हुई है नीरज आज भारत में आंख का तारा हो गया है

Neeraj Chopra Look Like Bahubali

टोक्यो: भारत के नीरज चोपड़ा ने पुरुषों की भाला फेंक स्पर्धा के फाइनल में प्रतिस्पर्धा करते हुए प्रतिक्रिया व्यक्त की, इसलिए टोक्यो में शनिवार, 7 अगस्त, 2021 को 2020 Tokyo Olympics था।

टोक्यो ओलंपिक :में नीरज चोपड़ा ने अपने बाहुबली हाथों से भले को समस्त सीमाओं के पार पहुंचा कर भारत के इतिहास में अपना नाम स्वर्णिम अक्षरों से लिखा दिया है आज भारत देश को अपने नीरज चोपड़ा पर गर्व है और पदकों की संख्या में 7 पदकों से भारत अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर रहा है नीरज चोपड़ा ने भारत की गोल्ड पदक की आस और जिज्ञासा को शांत कर दिया है.

पीएम नरेंद्र मोदी ने शनिवार को ओलंपिक में व्यक्तिगत स्वर्ण पदक जीतने वाले दूसरे भारतीय बनने के बाद नीरज चोपड़ा को बधाई देने के लिए ट्विटर का सहारा लिया। नीरज चोपड़ा ने पुरुषों की भाला फेंक स्पर्धा में 87.58 मीटर थ्रो के साथ स्वर्ण पदक जीता।पीएम मोदी ने ट्वीट किया, “टोक्यो में इतिहास रचा गया है। नीरज चोपड़ा ने आज जो हासिल किया है, वह हमेशा याद रहेगा। युवा नीरज ने असाधारण रूप से अच्छा प्रदर्शन किया है।

जीवनी नीरज चोपड़ा : नीरज चोपड़ा पानीपत में जन्मे भाला फेंकने वाला एक सनसनी है। उन्होंने जकार्ता में 2018 एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता, जहां उन्होंने 88.06 मीटर का एक नया भारतीय राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया, और उद्घाटन समारोह में ध्वजवाहक थे। नीरज चोपड़ा ने 2021 में इंडियन ग्रां प्री में 88.07 मीटर फेंककर अपना ही रिकॉर्ड तोड़ा है। उन्होंने गोल्ड कोस्ट 2018 राष्ट्रमंडल खेलों में भी स्वर्ण पदक जीता, 2016 IAAF विश्व U20 चैंपियन थे, और 86.48 मीटर का विश्व जूनियर रिकॉर्ड बनाया।

उन्होंने 87.58 मीटर का सर्वश्रेष्ठ थ्रो बनाकर ओलंपिक में व्यक्तिगत स्वर्ण जीतने वाले केवल दूसरे भारतीय बने।

भाला फेंकने में स्टार बन चुके नीरज चोपड़ा के ग्रह नगर पानीपत में दीपावली सा माहौल बन चुका है लोग नीरज चोपड़ा के घर के आसपास इकट्ठे होकर एक दूसरे को बधाइयां देते नजर आ रहे हैं साथ ही देश में बड़े नेताओं से लेकर फिल्म जगत में खासा उत्साह देखने को मिल रहा है और नीरज चोपड़ा को सर आंखों पर बिठा कर बधाइयों का दौर लगातार चल रहा हैनीरज चोपड़ा ने टोक्यो ओलंपिक में अपने ढाई किलो के हाथ से विश्व को दिखला दिया है कि भारत किसी से कम नहीं भारत में भी बाहुबली हुए हैं जिन्हें अपनी प्रतिभा पर पूर्ण विश्वास और भरोसा है उन्हीं की बदौलत आज भारत को भी ओलंपिक में स्वर्ण पदक प्राप्त हुआ हैनीरज चोपड़ा भाला फेंक में नए खिलाड़ियों के आइडियल के रूप में प्रसिद्धि पाएंगे नीरज चोपड़ा से आने वाले खिलाड़ियों को अनेक सीख मिलेगी जिससे कि हम आने वाले भविष्य में अच्छे खिलाड़ियों को देख पाएंगे जो कि हमारे भारत देश का नाम गर्व से ऊंचा कर देंगे.

आखिरी दिन चोपड़ा के स्वर्ण के साथ, भारत ने दो रजत और चार कांस्य सहित कुल सात पदक प्राप्त किये lभाला फेंकने वाले नीरज चोपड़ा ने 13 वर्षों में देश के पहले स्वर्ण पदक विजेता बनने के लिए कई कांच की छतें तोड़ दीं, उनके शानदार प्रदर्शन ने इसे देश के लिए अब तक का सबसे अच्छा खेल बना दिया।अपने प्रतिस्पर्धी कार्यक्रम के आखिरी दिन चोपड़ा के स्वर्ण के साथ, भारत ने दो रजत और चार कांस्य सहित कुल सात पदकों के साथ हस्ताक्षर किए, जिनमें से आखिरी दिन सुपरस्टार पहलवान बजरंग पुनिया ने दिया था।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.